चुप चाप तारे गिनकर बिता देते है रात हम !

चुप चाप तारे गिनकर बिता देते है रात हम !

चुप चाप तारे गिनकर बिता देते है रात हम !
मर्जी है सब तुम्हारी जाने कब होंगे साथ हम !!

Chup chaap taare ginakar bita dete hai raat ham !

marjee hai sab tumhaaree jaane kab honge saath ham !!

Leave a Reply