आज हो गया हूं मैं तनहा मेरा कोई गमखार नहीं है!

आज हो गया हूं मैं तनहा मेरा कोई गमखार नहीं है!   है मौत पर भरोसा मगर जिंदगी का इतवार नहीं है !!  कभी साथ साथ जीने की कसम खाई थी यार ने !  आज उसके ही दिल में मेरे लिए प्यार नहीं है !!
आज हो गया हूं मैं तनहा मेरा कोई गमखार नहीं है!
 है मौत पर भरोसा मगर जिंदगी का इतवार नहीं है !!
कभी साथ साथ जीने की कसम खाई थी यार ने !
आज उसके ही दिल में मेरे लिए प्यार नहीं है !!

No comments

Powered by Blogger.