संबंधों के बगैर अधूरी है जिंदगी !

संबंधों के बगैर अधूरी है जिंदगी !

संबंधों के बगैर अधूरी है जिंदगी !!
सुख और दुःख कि पहेली है !!

 

संबंधों के बगैर अधूरी है जिंदगी !
संबंधों के बगैर अधूरी है जिंदगी !
Continue Reading

जो बढ़ते हैं मजबूत इरादों के बल !

जो बढ़ते हैं अपने मजबूत इरादों के बल

जो बढ़ते हैं मजबूत इरादों के बल पर !!

उन्हें अपनी मंजिल पाने के लिए !!

किसी की जरूरत नहीं होती !!

Continue Reading

जिंदिगी भर  रुलाने  के लिये !

जिंदिगी भर  रुलाने  के लिये !

हजारों  खुशिया कम है ! गम एक  भुलाने के लिये !

एक गम काफी है ! जिंदिगी भर  रुलाने  के लिये !!

हुशन  जवानी पर  एतबार  करने वाले अक्सर धोखा  खाते है !

बड़े  कातिल  है ये  नशीले  नयन  वाले मगर बेगुनाह नज़र आते  है !!

Continue Reading

फरियाद तेरी सुनके कहते है ये लोग !

फरियाद तेरी सुनके कहते है ये लोग !

फरियाद तेरी सुनके कहते है ये लोग !

अरे ! हालत की दीवार गिरा क्यों नहीं देते !!

कुछ और जालिमत है जो कहते है कि कासिद !

अरे ! दुश्मने जॉ है भुला क्यों नहीं देते !!

Continue Reading

सुना है चाहत में आँख जुबा होती है !

सुना है चाहत में आँख जुबा होती है !

सुना है चाहत में आँख जुबा होती है !

सच्ची चाहत तो मगर बेजुबा होती है !!

आप गम ही करते है तो बेशक करे !

गम सहने से तो  चाहत जुबा होती  है !!

Continue Reading

मुहबबत की राहो पे चलना संभल के !

मुहबबत की राहो पे चलना संभल के !

मुहबबत की राहो पे चलना संभल के !

यहाँ जो भी आया गया हाथ मलके !!

न पाया किसी ने  महोबत में मंजिल !

कदम डगमगाये ज़रा दूर चलके !!

हमें ढूढ़ती  है बहारों की दुनिया !

कहाँ आ गए हम चमन से निकलके !!

कही टूट न जाये ये हसरत भरा दिल !

न यू  तीर  भोके निशाना बदले !!

Continue Reading

कितनी उलझनों का शिकार है ज़िन्दगी !

कितनी उलझनों का शिकार है ज़िन्दगी !

कितनी उलझनों का शिकार है ज़िन्दगी !

एक मुदत से अपनी बेक़रार है ज़िन्दगी !!

हर सास बयाज की सूरत हो रहा है अदा !

किसी महाजन से लिया उधार है ज़िन्दगी !!

कोई जोश है न उमंग है  न ख्वाईस न आरज़ू !

जबसे बिछुड़े तुम तबसे  बेक़रार है जिंदिगी !!

चलो  कही और चले गम न हो जहां !

इस शहर में तो दर्द का  अम्बार है ज़िन्दगी !!

Continue Reading

बेबफा दुनिया में हमने बेबफाई देख ली!

बेबफा दुनिया में हमने बेबफाई देख ली !

बेबफा दुनिया में हमने बेबफाई देख ली !

प्यार के बदले में अपनी जगहसाई देख ली !!

जिनके कारण हम हुए बर्बाद  वो खुसहाल है!

जो  मुकदर में थी अपने वो बुराई देख ली !!

कर भला तो हो भला  अब ये पुराणी बात  है !

कुछ भला होता नहीं करके भलाई देख ली !!

Continue Reading

बेकदर तुम्हे क्या खबर नहीं !

बेकदर तुम्हे क्या खबर नहीं !

बेकदर तुम्हे क्या खबर नहीं !

हर जख्म अभी भी ताजा है !!

जीने दो इन  जखमो को  !

सीने की कसम क्यों देते हो !!

Continue Reading

दिल से बेहतर कोई किताब नहीं !

दिल से बेहतर कोई किताब नहीं !

दिल से बेहतर कोई किताब नहीं !

जाने किस किस की मौत आयी है !!

आज रुख का कोई नकाब नहीं !

जुल्म का जिनके कोई हिसाब नहीं !!

Continue Reading

कौन किसका हबीब होता है !

कौन किसका हबीब होता है ! अपना अपना नसीब होता है !! याद करता है जब अज़ीज़ कोई ! दर्द दिल के करीब होता है !!

कौन किसका हबीब होता है !

अपना अपना नसीब होता है !!

याद करता है जब अज़ीज़ कोई !

दर्द दिल के करीब होता है !!

Continue Reading

महफ़िल की रौनक खत्म हो गयी दिलरुबा के चले जाने से !

महफ़िल की रौनक खत्म हो गयी दिलरुबा के चले जाने से ! ज़िन्दगी बर्बाद हो गई मोहबत में देगा खाने से !!

महफ़िल की रौनक खत्म हो गयी दिलरुबा के चले जाने से !

ज़िन्दगी बर्बाद हो गई मोहबत में देगा खाने से !!

Continue Reading

हम ख्वाबो में जिनसे मिलते है अक्सर !

हम ख्वाबो में जिनसे मिलते है अक्सर ! हक़ीकत मे सामने पाया तो एक खवाब लगा !!

हम ख्वाबो में जिनसे मिलते है अक्सर !

हक़ीकत मे सामने पाया तो एक खवाब लगा !!

Continue Reading

हमने दिखा दिखाकर तेरी तस्वीर वेवजह !

हमने दिखा दिखाकर तेरी तस्वीर वेवजह !

हमने दिखा दिखाकर तेरी तस्वीर वेवजह !

हर एक को अपनी जान का दुश्मन बना लिया !!

Continue Reading

हमको गुमान था की हम न बहकेंगे कभी !

हमको गुमान था की हम न बहकेंगे कभी !

हमको गुमान था की हम न बहकेंगे कभी !

जब दिल की आई याद तो खुद ही फिसल गए !!

Continue Reading

सदियों से हम तकिये में मुँह छिपा के रोते आये है !

सदियों से हम तकिये में मुँह छिपा के रोते आये है !

क्योकि अपने साथ कुछ इसी तरह के हादसे होते आये है !!

Continue Reading

सबका लाइसेंस है पर नजरो का क्यों नहीं !

सबका लाइसेंस है पर नजरो का क्यों नहीं !

नजरे भी बार करती है बंदूकों से कम नहीं !!

Continue Reading

हमने तुम्हारी याद में रो -रो के टप भर दिए !

हमने तुम्हारी याद में रो -रो के टप भर दिए !

वो इतने वेवफा निकले की उसी में नहा के चल दिए !!

Continue Reading

हर पल अपनी अलग कहानी है !

हर पल अपनी अलग कहानी है !

हर पल अपनी अलग कहानी है !

खामोश रहना भी तो प्यार की निशानी है !!

Continue Reading

माना की दुनिया बुरी है !

माना की दुनिया बुरी है !

माना की दुनिया बुरी है, सब जगह धोखा है !
लेकिन हम अच्छे बने हमें किसने रोका है !!

maana kee duniya buree hai, sab jagah dhokha hai !

lekin ham achchhe bane hamen kisane roka hai !!

Continue Reading