मुहब्बत ऐसी धरकन है जो समझाई नहीं जाती !

मुहब्बत ऐसी धरकन है जो समझाई नहीं जाती !

मुहब्बत ऐसी धरकन है जो समझाई नहीं जाती !
लबो तक दिल की बेचैनी कभी लाई नहीं जाती !!

 

Muhabbat aisee dharakan hai jo samajhaee nahin jaatee !

Labo tak dil kee bechainee kabhee laee nahin jaatee !!

Leave a Reply